Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana आर्थिक हल युवाओं को बल योजना के बारे में पूरी जानकारी

Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana: बिहार राज्य में शिक्षा को आर्थिक समाधान, युवा से बल योजना के तहत प्रगति की ओर ले जाने के लिए, बिहार सरकार ने युवाओं के लिए “अर्थिक हल युवावों को बाल योजना” शुरू की है। Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana के तहत छात्रों को शिक्षा ऋण प्रदान किया जाएगा। यह विशेष परियोजना बिहार राज्य के युवाओं और लड़कियों को शिक्षा में नए अवसर प्रदान करने और कौशल विकसित करने के लिए शुरू की गई है। आर्थिक समाधान, युवा को बाल योजना 2 अक्टूबर, 2016 को शुरू की गई थी। Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana के तहत युवाओं को क्रेडिट कार्ड जैसी सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी। ताकि निश्चिंत होकर आप बिना किसी रुकावट के अपनी पढ़ाई को लगातार चला सकें।

Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana
आर्थिक हल युवाओं को बल योजना के बारे में पूरी जानकारी

Yuvaon Ko Bal Yojana के तहत 20 से 25 वर्ष के बेरोजगार युवाओं को रोजगार की तलाश में सहायता के रूप में 1,000 रुपये प्रति माह की दर से स्वयं सहायता भत्ता मिलेगा। वहीं जिले में कुल 6,794 आवेदन प्राप्त हुए हैं. जिसमें से 5,039 बेरोजगार युवाओं का पंजीकरण किया जाएगा और 4,364 को भत्ता राशि का भुगतान किया जाएगा। Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana के क्रियान्वयन हेतु आर्थिक समाधान युवा को बाल योजना के क्रियान्वयन हेतु जिलाधिकारी संजय कुमार अग्रवाल द्वारा एमपीए एवं सिंगल विंडो आपरेटर की दो दिवसीय प्रशिक्षण सह कार्यशाला का उद्घाटन किया गया. एलएन मिश्रा इंस्टीट्यूट में वर्कशॉप शुरू हो गई है।

जिसमें से 30 कर्मियों को प्रशिक्षित किया जा चुका है। वहीं अन्य 30 कर्मियों को 19 व 20 सितंबर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिलाधिकारी ने सभी प्रशिक्षुओं को योजनाओं की महत्ता से अवगत कराया. प्रदेश के एकीकृत विकास की दिशा में Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana कारगर सिद्ध होगी। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि प्रशिक्षण के साथ-साथ प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले सभी कर्मियों से भी जानकारी ली जाये. उन्हें किस हद तक उनके काम की सही जानकारी मिल रही है। दो दिन के प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले कर्मियों का परीक्षण किया जाएगा। तथा परीक्षा में अनुत्तीर्ण होने वाले कार्मिकों की सेवा समाप्त कर दी जायेगी।

Table of Contents

आर्थिक हल युवाओं को बल योजना का उद्देश्य

Yuvaon Ko Bal Yojana का उद्देश्य 12वीं कक्षा से युवा छात्रों को रोजगार प्राप्त करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस कमजोर आर्थिक स्थिति में छात्रों को शिक्षा में बाधा नहीं बनना चाहिए और अधिक से अधिक छात्र आर्थिक समाधान, युवा स्कीम से जुड़कर अपना भविष्य बना सकते हैं। Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana का मुख्य उद्देश्य है। छात्रों को सरकार द्वारा निर्धारित योजना में उत्साहपूर्वक भाग लेना चाहिए और रोजगार पाने का अवसर प्राप्त करना चाहिए, ऐसा आर्थिक समाधान युवाओं को मजबूर करने के लिए योजना का उद्देश्य है। और किसी भी प्रकार की सहायता जैसे उच्च शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता, क्रेडिट कार्ड जैसी सुविधा और रोजगार न मिलने तक। तब तक उन्हें मासिक राशि देनी होगी। आर्थिक समाधान युवा को बल योजना का मूल उद्देश्य है।

Yuvaon Ko Bal Yojana Ka Benefit

  • Bihar Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana के अंतर्गत सभी छात्रों को पहले 80 घंटे के लिए हिंदी और अंग्रेजी संचार कौशल का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • आर्थिक समाधान युवाओं को बल योजना के तहत 40 घंटे का सॉफ्ट स्किल प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
  • इस योजना में इस प्रकार का प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहते हैं। जिसके बाद उन्हें आवेदन करने के बाद यह प्रशिक्षण नि:शुल्क प्रदान किया जाएगा
  • आर्थिक समाधान बल योजना के तहत युवाओं को 120 घंटे तक बुनियादी कंप्यूटर ज्ञान दिया जाएगा।
  • यह कार्यक्रम भी सार्थक हल युवावों को बाल योजना का एक हिस्सा है। 15 से 25 वर्ष के पात्र छात्रों की रोजगार योग्यता कौशल बढ़ाने के लिए केवल आर्थिक समाधान युवा को बाल योजना का आयोजन किया गया है।

आर्थिक हल युवाओं को बल योजना के लिए पात्रता

  • Bihar Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Scheme केवल पिछड़े वर्ग के युवाओं/लड़कियों के लिए है।
  • सार्थक हल युवावों को बाल योजना के तहत आवेदक की आयु 20-25 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक बिहार का मूल निवासी होना चाहिए।
  • गैर सरकारी योजना द्धारा जारी योजना का लाभ लेने वाले छात्र इस योजना का हिस्सा नहीं होंगे.
  • और कोई भी छात्र इस योजना का लाभ नहीं ले सकता है।
  • बल योजना के तहत रोजगार की तलाश कर रहे युवाओं को आर्थिक समाधान। वे इस योजना के पात्र हैं।
  • किसके साथ कोई काम कर रहा है। और किसी व्यवसाय में लगे हैं।
  • वह छात्र भी इस योजना का हिस्सा नहीं है।
  • इस योजना के पूर्व किसी अन्य योजना का लाभ लेने वाले छात्र इस योजना के लाभ से वंचित रहेंगे।

आर्थिक हल युवाओं को बल योजना के लिए दस्तावेज

  • आवेदक संस्थान में नामांकन प्रमाण पत्र अनिवार्य है।
  • 12वीं कक्षा का प्रमाणपत्र होना चाहिए।
  • बैंक खाता, बैंक पासबुक और खाता संख्या होनी चाहिए।
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो और माता-पिता की फोटो होनी चाहिए।
  • स्थानीय प्रमाण पत्र जैसे बिजली बिल, टेलीफोन बिल आदि यह सुनिश्चित करने के लिए कि आवेदक बिहार का मूल निवासी है।
  • आवेदक की आईडी जैसे:- पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड आदि।

Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana के लिए आवेदन की प्रकिया

  • Bihar Aarthik Hal Yuvaon Ko Bal Yojana के लिए आपको Official Website पर जाना होगा।
  • आवेदक को ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना होगा।
  • इस फॉर्म में ई-मेल आईडी या मोबाइल नंबर आदि जानकारी भरी जाएगी। जिससे उस पर रजिस्ट्रेशन नंबर आ जाएगा।
  • इस योजना के आवेदन पत्र में दस्तावेज संलग्न नहीं किए जाएंगे।
  • यह आवेदन पत्र कब जमा किया जाएगा। उसके बाद आवेदक को इसकी पीडीएफ कॉपी डाउनलोड करनी होगी।
  • उसके बाद यह पीडीएफ कॉपी डीआरसीसी काउंटर पर दस्तावेजों को संलग्न कर जमा करनी होगी।
  • फिर आपको ई-मेल या मोबाइल एसएमएस के माध्यम से आवेदक की तारीख और समय के बारे में सूचित किया जाएगा।
  • जिसके चलते उन्हें डीआरसीसी कार्यालय आना पड़ रहा है।
  • इसके साथ ही आवेदक को अपने आवेदन पत्र की हार्ड कॉपी भी काउंसलिंग सेंटर को देनी होगी।
  • आवेदक निर्धारित दिन और समय पर डीआरसीसी कार्यालय में सत्यापित पीडीएफ कॉपी, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ और आवश्यक दस्तावेज ले जाएगा।
  • फार्म जिला पंजीकरण एवं परामर्श केंद्र पर जाने के लिए एक टोकन नंबर दिया जाएगा।
  • आपको टोकन नंबर की मदद से उनके द्वारा निर्धारित काउंटर पर जाकर अपने दस्तावेजों की जांच करानी होगी।
  • मूल प्रमाण पत्र आवेदक को वापस कर दिए जाएंगे।
  • ओर उसके द्वारा सत्यापित पीडीएफ प्रति उसी पर जमा कर दी जाएगी।
  • आवेदक द्वारा सभी दस्तावेज जमा करने के बाद लाभार्थी को एक रसीद दी जाएगी।
  • अगर कोई गलती है या कुछ छूट गया है तो उसे बहुउद्देश्यीय सहायक (एमपीए) द्वारा ठीक किया जाएगा।
  • आर्थिक समाधान युवा को बल योजना के तहत आवेदक की पंजीकरण प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

आर्थिक हल युवाओं को बल योजना से संबंधित पूछे जाने वाले प्रश्न:

प्रशन:- इस भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ आवेदक परिवार की कितनी बेटियों को प्रदान किया जाता है?

उतर:- इस योजना का लाभ आवेदक परिवार की दो बेटियों को प्रदान किया जाता है।

प्रशन:- भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत राज्य की लड़कियों के किन परिवारों को योजना का लाभ मिल सकेगा?

उतर:- भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर बीपीएल परिवारों को ही योजना का लाभ मिलेगा।

प्रशन:- लक्ष्मी योजना का लाभ पाने के लिए आवेदन कैसे करें?

उतर:- भाग्य लक्ष्मी योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक कर फॉर्म डाउनलोड कर उसका प्रिंट आउट ले लें, सारी जानकारी भरकर फार्म के साथ दस्तावेज संलग्न कर आंगनबाडी केंद्र में जमा करें या महिला एवं बाल विकास विभाग का कार्यालय। यह पूर्ण करो

प्रशन:- योजना के तहत आवेदन करने वाले आवेदक परिवार की वार्षिक आय कितनी होनी चाहिए?

उतर:- योजना के तहत आवेदन करने वाले आवेदक परिवार की वार्षिक आय 2 लाख रुपये या उससे कम होनी चाहिए।

प्रशन:- आर्थिक समाधान युवा सह-योजना क्या है?

उतर:- मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता योजना और कुशल युवा कार्यक्रम के लिए आवेदक ऑनलाइन आवेदन करने के 30 दिनों के भीतर किसी भी कार्य दिवस में आवश्यक दस्तावेजों के साथ डीआरसीसी में सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक पहुंच जाएं।

प्रशन:- महिला समूह योजना क्या है?

उतर:- इसका उद्देश्य ग्रामीण एसएचजी महिलाओं को कम से कम प्रति वर्ष 1 लाख। इस महत्वाकांक्षी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए, मंत्रालय की योजना अगले 2 वर्षों में 2.5 करोड़ ग्रामीण एसएचजी महिलाओं को आजीविका सहायता प्रदान करने की है।

प्रशन:- स्वयं सहायता समूह कैसे बनाएं?

उतर:- सभी महिलाओं के पास आधार कार्ड, बैंक अकाउंट, पासपोर्ट साइज फोटो आदि होना जरूरी है। ग्रुप बनाने के लिए आपको अपने नजदीकी बैंक में एसएचजी के नाम से अकाउंट खोलना होगा। यह खाता अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सचिव के नाम से खोला जाता है। अन्य महिलाएं समूहों में कार्यकर्ता के रूप में काम करती हैं।

प्रशन:- बेरोजगारी लाभ के लिए आयु आवश्यकता क्या है?

उतर:- भत्ता प्राप्त करने के लिए आयु 21 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

प्रशन:- बेरोजगारी भत्ता क्यों नहीं मिल रहा है?

उतर:- बेरोजगारों ने 15 दिन पहले जिला कलेक्टर को बेरोजगारी भत्ता देने की मांग का पत्र सौंपा था. लेकिन अभी तक कोई बेरोजगारी भत्ता नहीं मिला है। जिला रोजगार अधिकारी रघुबीर सिंह मीणा ने बताया कि बजट नहीं होने के कारण बेरोजगार युवकों को दो माह से बेरोजगारी भत्ता नहीं दिया गया.